Sarpanch Training Workshop Organized in Ghatol

बाल संरक्षण समिति एंव अधिकारों को लेकर जागरूक हुये सरपंच एंव ग्राम विकास अधिकारी

घाटोल पंचायत समिति सभागार में दिनांक 18 जुलाइ को सीआरसी परियोजना के तहत् वाग्धारा सस्थां, चाइल्ड लाइन 1098 एंव सेव द चिल्ड्रन के तत्वाधान में समेकित बाल संरक्षण योजना और बाल अधिकारो पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसमें प्रमुख रूप से 56 ग्राम पंचायतो के सरपंच एंव ग्राम विकास अधिकारीें ने भाग लिया, इसके साथ ब्लाॅक विकास अधिकारी हरिकेश मीणा, सामाजिक सुरक्षा अधिकारी गौतम लाल मीण और जिला बाल कल्याण समिति के सदस्य मधुसुदन जी व्यास, सस्थांन की ओर से कार्यक्रम अधिकारी माजिद खान एंव मुकेश सिंघल तथा चाइल्ड़ लाइन से टीम सदस्य शोभा देवी ने भाग लिया। बैठक में मुख्य मुद्दे बालको से संबधित थे और पंचायत स्तर पर बाल संरक्षण समिति किस प्रकार से कार्य करेगी उस पर मुख्य रूप से चर्चा की गयी। आई.सी.पी.एस एक बडे स्तर पर बच्चो के सरंक्षण़, अधिकार एंव उनसे जुड़ी योजनाओं को समन्वित करती है और उनके अधिकारों का वर्गीकरण करती है। बाल कल्याण समिति के मधुसुदन जी ने बच्चों के अधिकारो को प्रभावी रूप से ग्रामस्तर पर सुनिश्चित करने और जिस प्रकार से बच्चों से जुड़ी हुई वर्तमान में जो घटनाएं हो रही है उसको जोर देकर बताया कि बच्चो के सुखद भविष्य के लिए सर्वप्रथम माता पिता और समुदाय की मुख्य भूमिका रहती हैं. 
प्रतिभागियों में से गोपाल जोशी रूप जी का खेडा के ग्राम विकास अधिकारी ने बच्चों से जुड़े मुददों को सभी के सामने रखा एंव जरूरत मंद बच्चों को सामाजिक योजना से जोड़ने का आव्हान किया। ब्लाॅक विकास अधिकारी ने वाग्धारा संस्थान को धन्यवाद देते हुये कहा कि बच्चों से जु़ड़े हुये मुददो को उठाने एवं इनके निवारण के लिये जो इनके प्रयास है वो सराहनीय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *