In-Media-Sarpanch-Training-Program-Child-Rights-4

चाइल्ड राइट्स फॉर चेंज परियोजना के अंतर्गत वाग्धारा संस्था, सेव द चिल्ड्रन एवं चाइल्ड लाइन 1098 के संयुक्त तत्वाधान में बागीदौरा व तलवाड़ा पंचायत समिति सभागार में बाल संरक्षण विषय पर सरपंच प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया | जिसमे सरपंच, सचिव एवं ब्लॉक स्तर के अधिकारियों ने बच्चों के हितो को सर्वोच्च प्राथमिकता दिए जाने और उनके कौशल विकास के लिए कार्य करने का संकल्प व्यक्त किया |

यह कार्यशाला जिला बाल कल्याण समिति के सदस्य मधुसुदन व्यास के मुख्य आतिथ्य में सम्पन्न हुई | अध्यक्षता प्रधान शांता गरासिया ने की तथा विशिष्ट अतिथि विकास अधिकारी रमेश मीणा थे |

संस्था के कार्यक्रम प्रबन्धक माजिद खान ने बालोत्थान में ब्लॉक व पंचायत स्तरीय बाल संरक्षण समितियों की महत्ती भूमिका निरुपित करते हुए इसके विधिवत गठन को सर्वोच्च प्राथमिकता दिए जाने की आवश्यकता पर बल दिया | जिला बाल कल्याण समिति सदस्य ने उपस्थित सहभागियों को बाल मैत्री गाँव और पंचायते बनाने में तथा बाल श्रम से मुक्ती का अभियान चलाते हुए बच्चों को बाल विवाह से निजात दिलाकर उन्हें शिक्षा से जोड़ने बाल संरक्षण समितियों का गठन किए जाने की विधिवत प्रतिज्ञा दिलाई | प्रधान शांता गरासिया ने कहा की पूरी पंचायत समिति को बाल मित्र बनाने के लिए हर ग्राम पंचायत स्तर एवं ब्लॉक स्तर पर बाल संरक्षण समितियों का गठन किया जाएगा |

विकास अधिकारी रमेश मीणा ने कहा की जब तक हम स्वयं बच्चों की वर्तमान स्थिति को आत्मसात कर दिल से उनके संरक्षण के बारे में ना सोचेंगे तब तक समेकित बाल संरक्षण योजना का प्रभावी किर्यान्वयन जमीनी स्तर तक नहीं हो पाएगा | इसलिए हम सभी जिम्मेदार लोगो को बच्चों के प्रति संवेदनशील होकर इन समितियों में अपनी जिम्मेदारी पूरी ईमानदारी के साथ निभानी होगी |

In-Media-Sarpanch-Training-Program-Child-Rights-4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *