धरती पुत्रो ने वाग्धारा द्वारा निर्मित जनजातिय विकास मंच के माध्यम से लगाई मदद की गुहार

1

जनजातीय विकास मंच ने अपने अधिकारों को लेकर सामुदायिक स्तर पर 19.जनजातीय स्वराज संगठन से निर्मित जनजातिय विकास मंच के सदस्यो ने किसानांे की आवाज श्रीमान अंकित कुमार सिंह जिला कलक्टर महोदय बाॅसवाडा तक पहुचाई वागधारा संस्थान द्वारा जनजातीय समुदाय के उत्थान एवं विकास के लिए घाटोल, कुशलगढ, सज्जनगढ, आन्नदपुरी, व गांगडतलाई ब्लाॅक के किसान पहले से ही कोविड़ -19 महामारी के दुष्प्रभावों से प्रभावित है, जिसके चलते आर्थिक हालात खराब हो रहे है, किसानांे को आस बंधी थी कि उनको खरीफ की फसल से अच्छा उत्पादन होगा जिससे आर्थिक हालात सुधरेगे लेकिन शुरूवाती दौर मंे वर्षा का कम होना और नही के बराबर होना और पिछले महिने अगस्त मंे अधिक वर्षा हुई की खडी खरीफ की फसल जैसे- मक्का, सोयाबीन, उडद, मुंग, तिल, आदि या तो गिर गई, खड़ी फसल मंे कीडे लग गये या पौध मंे रोग आने से ज्यादातर खराब हो गई है। जिसके परिणामस्वरूप फसल का उत्पादन बहुत कम या नही के बराबर होने की उम्मीद है। इससे कई किसान कर्ज के निचे आ गए है।

किसान के पास आमदनी का दुसरा कोई साधन नही है, ऐसी स्थिती मंे 780 गावांे मंे जनजातीय स्वराज संगठन के सदस्यांे के द्वारा ब्लाॅक स्तर पर बातचीत कर  फसल खराबे की गिरदावरी करवाने एव समय पर मुआवजा दिलवाने की मांग करते हुए जनजातिय विकास मंच के सदस्यो द्वारा श्रीमान जिला कलक्टर को ज्ञापन दिया गया, ज्ञापन के दौरान जिला कलक्टर महोदय ने बताया कि गिरदावरी करवाने के आदेश मिल चुके हे और वर्तमान समय मंे गिरदावरी का कार्य चल रहा है। आप सभी जागरुक किसान अपने अपने क्षेत्रो मंे पटवारी से मिलकर समय पर गिरदावरी करवाए जिससे समय पर गिरदावरी हो सके जिसका फायदा सभी किसानो को समय पर मिल सके।

2
1
sd
34427d0a-6adc-4443-8a64-a8c4942b8bbb
Screenshot (399)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *